Jul 11, 2024, 14:07 IST

एण्डटीवी की अभिनेत्रियों ने साड़ियों और पारंपरिक परिधानों के प्रति जताया प्यार

एण्डटीवी की अभिनेत्रियों ने साड़ियों और पारंपरिक परिधानों के प्रति जताया प्यार

एण्डटीवी की प्रमुख अभिनेत्रियों को न सिर्फ उनके बेजोड़ अभिनय कौशल के लिये सराहा जाता है, बल्कि उन्हें उनके बेमिसाल स्टाइल के लिये भी बेहद पसंद किया जाता है। उन्हें भारत के पारंपरिक परिधानों से काफी लगाव है। नेहा जोशी (कृष्णा देवी वाजपेयी, ‘अटल’), हिमानी शिवपुरी (कटोरी अम्मा, ‘हप्पू की उलटन पलटन’) और शुभांगी अत्रे (अंगूरी भाबी, ‘भाबीजी घर पर हैं) स्क्रीन पर और उसके बाहर भी अपनी चमक बिखेरती रहती हैं। उनकी साड़ियाँ उनकी खूबसूरती में चार चांद लगा देती हैं और उन्हें स्टाइल तथा परंपरा का असली आइकाॅन बनाती हैं। उनके वार्डरोब्स में लक्जरी कांजीवरम से लेकर खूबसूरत चिकनकारी की साड़ियाँ मौजूद हैं। यह परिधानों के मामले में भारत की समृद्ध धरोहर से उनका गहरा लगाव दिखाती है। ‘अटल‘ में कृष्णा देवी वाजपेयी की भूमिका निभा रहीं नेहा जोशी ने बताया, ‘‘साड़ियों की हमेशा से मेरे वार्डरोब और दिल में एक खास जगह रही है। हाल ही में, लखनऊ में अपने शो ‘अटल’ को प्रमोट करने के दौरान मैंने एक चिकनकारी की काॅटन साड़ी ली थी, जो वहाँ की सबसे अच्छी साड़ियों में से एक थी। यह खूबसूरत साड़ी मेरे कलेक्शन की सबसे महंगी साड़ियों में से एक है। यह लखनऊ की कलाकारी और धरोहर का असली सबूत है। हाथ से काढ़े गये इसके बारीक पैटन्र्स और काॅटन का मुलायम कपड़ा बेहद सुंदर है। इसे पहनकर ऐसा लगता है जैसे आपने किसी समृद्ध परंपरा से सराबोर परिधान पहना हो। यह साड़ी मेरे लिये बेहद खास है और मैंने उसे नासिक में अपनी माँ के घर रखने का फैसला किया है। चूंकि, हम दोनों को साड़ियों से प्यार है, इसलिये अपनी माँ को वह साड़ी पहनते देखकर मुझे बड़ी खुशी मिलती है।’’  

‘हप्पू की उलटन पलटन‘ में कटोरी अम्मा का किरदार निभा रहीं हिमानी शिवपुरी ने कहा, ‘‘मेरी साड़ियों के कलेक्शन में सबसे कीमती है लाल रंग की बनारसी साड़ी। यह साड़ी मैंने वाराणसी के एक यादगार सफर में खरीदी थी। मोटा और चमकदार सिल्क और उस पर बारीकी से किया गया जरी का काम हर बनारसी साड़ी को एक मास्टरपीस बनाता है। ऐसी साड़ी अपने पास रखने का मतलब होता है कि आपके पास कला का कोई नमूना हो, जिसमें हमारी संस्कृति रची-बसी हो। यह बेजोड़ कारीगरी पीढ़ियों से चली आ रही है। यह बनारसी साड़ी हमारे देश की सांस्कृतिक समृद्धि के लिये मेरे सम्मान और भारत के पारंपरिक परिधानों से मेरे गहरे प्यार का प्रतीक है।’’  ‘भाबीजी घर पर हैं‘ में अंगूरी भाबी की भूमिका के लिये मशहूर शुभांगी अत्रे ने बताया, ‘‘मेरे वार्डरोब में नीले रंग की कांजीवरम सबसे महंगी साड़ी है। यह साड़ी मेरी माँ ने मुझे 15 साल पहले तोहफे में दी थी और यह मेरे लिए असली खजाना है। मैंने इसे सबसे यादगार मौकों के लिये रखा हुआ है, जैसे कि दीवाली। ऐसे मौकों में उसकी शानदार रंगत और झिलमिलाते हुए जरी के धागे त्यौहार की भव्यता को बढ़ा देते हैं। उसकी कारीगरी में कोई गलती नहीं हुई है और यह हर कांजीवरम में होने वाली कलाकारी का सबूत है। मैं जब भी उसे पहनती हूँ, मुझे हमारी जड़ों और परंपराओं के साथ गहरे लगाव का एहसास होता है, जोकि पीढ़ियों से चला आ रहा है। इस साड़ी का भावनात्मक महत्व मेरे लिये बहुत ज्यादा है, जो मुझे माँ-बेटी के रिश्ते की याद दिलाता है। एक दिन मैं यह साड़ी अपनी बेटी आशी को दूंगी, ताकि वह हमारी विरासत को आगे बढ़ाये।’’ 


अपने चहेते कलाकारों को देखना न भूलें, ‘‘अटल’’ में रात 8ः00 बजे, ‘हप्पू की उलटन पलटन’ में रात 10ः00 बजे और ‘भाबीजी घर पर हैं’ में रात 10ः30 बजे, हर सोमवार से शुक्रवार सिर्फ एण्डटीवी पर!

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Advertisement